आजकल के जमाने मे शायद ही कोई ऐसा बंदा होगा जिसने की कंप्यूटर न देखा हो और अगर न भी देखा होगा तो सुना तो जरूर होगा। खैर अगर आपको नहीं पता की कंप्यूटर क्या होता है तो ये आपके लिए है.

Image result for computers evaluation

” कंप्यूटर एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जो की बड़ी बड़ी गणनाओं और आधुनिक कामों को पूरा करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है फिर चाहे वो ऑफिस के डॉक्युमेंटस हों या फिर किसी आदमी की सर्जरी और या फिर कोई अंतरिक्ष विमान। बिना कंप्यूटर के आज के जमाने की कल्पना भी काफी मुश्किल सी लगती है।  

अगर बात करें कंप्यूटर शब्द की तो कंप्यूटर का शुद्ध हिंदी मतलब  होता है “संगणक ” मतलब एक साथ कई गणनाए करने वाला।

आपको ये जानकर आश्चर्य  होगा की उनीसवीं  सदी तक कंप्यूटर एक चीज़ न होकर एक पद था।  सारी कैलक्युलेशन्स जो आज कंप्यूटर की मदद से की जाती हैं उन्हें करने के लिए पहले आदमी नौकरी पर रखे जाते थे। उन लोगों को कंप्यूटर कहा जाता था। आमतौर पर मर्दों की तुलना मे औरतों को कंप्यूटर की नौकरी पर रखा जाता था क्योंकि उनकी तनख्वाह मर्दों की तुलना मे कम होती थी 

कंप्यूटर का इतिहास (History of Computer in Hindi)

Image result for computers evaluation

कंप्यूटर की खोज उन्नीसवीं शताब्दी की शुरुवात मे हो गयी थी। Charles  Bebbage को कंप्यूटर का जनक माना जाता है जो की एक ब्रिटिश मैकेनिकल इंजीनियर थे।  उन्होंने ही पहली बार आधुनिक कंप्यूटर का कांसेप्ट दिया था।  ब्रिटिश गोवेर्मेंट ने उनकी इस खोज के लिए पैसे देना बंद कर  दिया इस वजह से वो अपनी खोज को वास्तविकता मे नहीं बदल सके पर कुछ सालों  बाद ही उनके बेटे ने 1906 मे सफ़लतापूर्वक कंप्यूटर तैयार  लिया जो की एक एनालॉग कंप्यूटर था।  

इसके बाद मे बीसवीं सदी  शुरुवात मे अमरीकी नेवी ने एक एलेक्ट्रोमैकेनिकल कंप्यूटर तैयार कर लिया जो की आसानी से एक जहाज  डैशबोर्ड पर फिट हो सकता था. इस कंप्यूटर की खासियत ये थी की ये ट्रिग्नोमेट्री  की मदद से तोफों को हिलते डुलते टारगेट पर निशाना लगाने मे मदद कर सकता था।  

कंप्यूटर के प्रकार (Types of computer )

कंप्यूटर के इतने ज्यादा प्रकार हैं की शायद सबको एक साथ लिख पाना भी मुश्किल लगे। एक साधारण कैलकुलेटर से लेकर एक मोबाइल फ़ोन भी कंप्यूटर की श्रेणी मे आते हैं। मुख्यतः कंप्यूटर को तीन श्रेणियों मे बांटा जा सकता है.

Super Computer: (सुपर कंप्यूटर )

सुपर कंप्यूटर सबसे शक्तिशाली होते हैं और आकर मे बहुत बड़े होते हैं।  कुछ सुपर कंप्यूटर तो इतने बड़े होते हैं की एक पूरी बिल्डिंग को घेर लेते हैं। इनको ठंडा रखने के लिए पूरी इमारत मे एयर कूलर का इस्तेमाल किया जाता है। इन कम्प्यूटर्स का इस्तेमाल ख़ास कामों के लिए जैसे की मौसम भविश्यवाणी ,  उपग्रह  परीक्षणों और भूकंप रिसर्च इत्यादि मे इस्तेमाल किया जाता है।  

Main-Frame Computers (मेन फ्रेम कंप्यूटर )

मेन फ्रेम कंप्यूटर भी काफी भारी भरकम कम्प्यूटर्स होते हैं परन्तु सुपर कंप्यूटर की तुलना मे थोड़े छोटे होते हैं।  इन कप्यूटर का इस्तेमाल कई सरकारी बैंकों और बड़ी बड़ी कंपनियों द्वारा अपने ग्राहकों का डाटा स्टोर करने के लिए किया जाता है।

Mini Computer (मिनी कंप्यूटर )

मिनी कंप्यूटर आकर मे छोटे होते हैं और छोटी कंपनियों और डिपार्टमेंट्स द्वारा इस्तेमाल  जाते हैं।  इन कम्प्यूटर्स को एक से अधिक लोगों के इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया होता है.इस तरह के कंप्यूटर एक दूसरे से जुड़े हुए होते हैं.

Micro Computers (माइक्रो कम्प्यूटर्स )

  आज के युग मे जितने भी  आधुनिक कंप्यूटर जैसे की डेस्कटॉप, लैपटॉप ,टैबलेट यहां तक की स्मार्टफोन भी इस केटेगरी मे आते हैं।